Join us?

विशेष लेख
Trending

Special Reports :मुद्दों की हो बात तो विपक्ष का है साथ

Special Reports :मुद्दों की हो बात तो विपक्ष का है साथ

रायपुर । 23 फरवरी वर्तमान परिदृश्य में छत्तीसगढ़ विधानसभा का बजट सत्र चल रहा है सत्ता पक्ष और विपक्ष में सदन की कार्रवाई के दौरान तालमेल दिखाई दे रहा है जो कई मायने में काफी सुखद होना चाहिए जिस तरह से सत्ता पक्ष और विपक्ष जनहित की मुद्दों में चर्चा की तैयारी कर रहे हैं और बहस हो रही है इससे तो यही लगता है की दोनों राष्ट्रीय राजनीतिक दल वाकई राज्य और देश के विकास के लिए चिंतित हैं किंतु जनता जनप्रतिनिधियों के स्वरूप को विश्वास में लेना चाहती है और यह तब आएगा जब सदन के बाहर और अंदर होने वाली चर्चाओं में परिणाम सामने आने लगेंगे क्योंकि जनप्रतिनिधि सदन में तेज स्वर में अच्छे मुद्दों पर जोरदार बहस तो करते हैं पर उन बहस का क्या परिणाम निकलता है यह विचारणीय पिछले 15 दिनों में सत्ता पक्ष और विपक्ष कई बार आमने-सामने हुए जोरदार सदन में जोरदार बहस चली लोकतंत्र का चौथा स्तंभ जनप्रतिनिधियों को मुद्दों पर चर्चा करते देखा सुखद स्थिति मानने लगा लेकिन प्रदेश की जनता खासतौर पर राजधानी की जिसमें अधिकांश काफी संख्या में पढ़ा लिखा वर्ग विचरण करता है वह समझने को तैयार है कि आने वाले दिनों में लोकसभा चुनाव होने वाले हैं इसलिए सदन की गरिमा और गर्माहट दोनों एक साथ दिखलाई पड़ेंगे शायद सदन में जोरदार आवाज के साथ चर्चा में भाग लेने वाली विधायक में से ही किसी को लोकसभा का टिकट मिलने वाला हो इस तर्ज पर बहस चल रही है मुद्दों का क्या है कई सारे मुद्दे चुनाव में घोषणा पत्र और चुनावी राजनीति के हिस्से होंगे किंतु इस समय प्रदेश की आम जनता को तो यही लग रहा है कि जनप्रतिनिधि उनके हितों को लेकर बहस कर रहे हैं चुनाव विश्लेषक और राजनीति के जानकारी मानते हैं कि जनप्रतिनिधि उन बातों पर ही चर्चा करते हैं जो उनके रास्ते और मंजिल है आगे बढ़ाने के लिए होती हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button