Join us?

plz join with us
विशेष लेख

लोकसभा चुनाव में महिलाओं की होगी निर्णायक भूमिका

लोकसभा चुनाव में महिलाओं की होगी निर्णायक भूमिका

लोकसभा चुनाव का बिगुल बजने जा रहा है और अब कुछ दिनों के बाद मतदान भी होना है। महिला मतदाता इस बार भी निर्णायक भूमिका में होंगी। विधानसभा की तर्ज पर लोकसभा में भी महिला मतदाता पुरुषों पर भारी रह सकती है। छत्‍तीसगढ़ में कुल मतदाताओं की संख्या 2 करोड़ 51 लाख 3 हजार 252 हैं, जिसमें महिला मतदाता 1 करोड़ तीन लाख 32 हजार 115 व पुरुष मतदाताओं की संख्या 1 करोड़ 1 लाख 80 हजार 405 हैं।

महिला मतदाताओं की संख्या ज्यादा होने के मामले पर निर्वाचन अधिकारियों का कहना है कि प्रदेशभर में जागरूकता कार्यक्रमों में महिलाएं बढ़-चढ़ हिस्सा ले रही है। वोटर आइडी बनवाने में भी महिलाओं की संख्या अधिक रही।

राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि लोकसभा चुनाव में भाजपा-कांग्रेस दोनों पार्टियों के लिए महिला मतदाता बड़ा फैक्टर साबित होंगी। छत्तीसगढ़ में भाजपा सरकार हाल ही में महिलाओं के लिए महतारी वंदन योजना की शुरुआत करते हुए बड़ा निर्णय ले लिया है, वहीं कांग्रेस ने इस लोकसभा चुनाव में महंगाई को मुद्दा बनाया है। दोनों पार्टियों ने महिलाओं को साधने के लिए रणनीति बना ली है।

सिर्फ रायपुर लोकसभा में पुरुष मतदाता ज्यादा
प्रदेश की 11 सीटों के आंकड़ों पर गौर करें तो सिर्फ रायपुर लोकसभा सीट पर पुरुष मतदाता ज्यादा है। बाकी अन्य लोकसभा सीट सरगुजा, रायगढ़, जांजगीर-चांपा,कोरबा, बिलासपुर, राजनांदगांव, दुर्ग, महासमुंद, बस्तर व कांकेर में महिला मतदाता अधिक री है। रायपुर लोकसभा सीट में पुरुष मतदाता 11 लाख 73 हजार 167 है, वहीं महिला मतदाता 11 लाख 69 हजार 358 हैंं। रायपुर लोकसभा में कुल 23 लाख 42 हजार 827 मतदाता हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button