Join us?

राजधानी

एसईसीएल में स्वच्छता पखवाड़ा, विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन

एसईसीएल में स्वच्छता पखवाड़ा, विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन

कोयला मंत्रालय भारत सरकार से प्राप्त निर्देशानुसार हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी एसईसीएल मुख्यालय सहित सभी संचालन क्षेत्रों में स्वच्छता पखवाड़ा का आयोजन किया गया। 16 से 30 जून के बीच आयोजित स्वच्छता पखवाड़ा में एसईसीएल की खदानों, कार्यालयों, कालोनियों आदि में स्वच्छता का संदेश देने के उद्देश्य से विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।
स्वच्छता पखवाड़ा का शुभारंभ दिनांक 15 जून को सीएमडी डॉ प्रेम सागर मिश्रा द्वारा मुख्यालय में कार्यरत सभी कर्मियों को स्वच्छता शपथ दिलाने के साथ हुआ। इसके साथ ही एसईसीएल के सभी संचालन क्षेत्रों में भी सभी अधिकारी-कर्मचारियों ने हर वर्ष साफ-सफाई के लिए 100 घंटे श्रमदान की शपथ ली।
पखवाड़े के बिलासपुर में जनमानस के बीच स्वच्छता के प्रति जागरूकता बढ़ाने एवं सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग को कम करने हेतु प्रेरित करने के लिए लिए डीएवी स्कूल बिलासपुर के बच्चों द्वारा शहर में विभिन्न स्थानों पर नुक्कड़ नाटक का मंचन किया गया। इसके साथ ही एसईसीएल के विभिन्न संचालन क्षेत्रों में भी नुक्कड़ नाटक, लोकगीत, कीर्तन के माध्यम से स्वच्छता का संदेश दिया गया तथा प्लास्टिक के ऊपयोग को कम करने के लिए स्थानीय बाज़ारों में जूट के थैलों का वितरण भी किया गया।
सोशल मीडिया के माध्यम से भी साफ-सफाई एवं प्लास्टिक का कम से कम उपयोग करने का संदेश दिया गया। इसके अलावा मुख्यालय एवं संचालन क्षेत्रों के खदानों, कार्यालयों, अस्पतालों, कालोनियों आदि में श्रमदान कर सफाई अभियान भी चलाया गया एवं डस्टबिन का वितरण कर गीले व सूखे कचरे के सही प्रबंधन के प्रति भी लोगों को जागरूक किया गया।
पखवाड़े की गतिविधियों के अंतर्गत एसईसीएल में संचालित रेन वाटर हार्वेस्टिग सिस्टम्स की भी साफ-सफाई एवं रख-रखाव किया गया। साथ ही आसपास के गांवों एवं शहरों में पर्यावरण संरक्षण के उद्देश्य से लोगों में पौधे भी बांटे गए।
15 दिन तक चले इस आयोजन में एसईसीएल अधिकारी-कर्मचारियों एवं उनके परिवार के सदस्यों, महिलाओं एवं बच्चों तथा आसपास के गांवों एवं शहरों के आमजनों ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। इस दौरान आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया गया जिसके विजेताओं को पखवाड़े के अंतिम दिन पुरस्कृत किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
होंठों के ऊपर कालेपन से है परेशान? करें ये इस्तेमाल मुंबई में घूमने के लिए प्रमुख स्थान मानसून का मज़ा लीजिए, लेकिन इन स्ट्रीट फूड्स से रहें दूर