Join us?

plz join with us
आपके लिए

कहीं पर भी न करें मोबाइल चार्ज, हो सकता है ये बड़ा नुकसान

कहीं पर भी न करें मोबाइल चार्ज, हो सकता है ये बड़ा नुकसान

आमतौर पर देखा जाता है कि लोग कहीं भी मोबाइल चार्ज कर लेते हैं। एयरपोर्ट, होटल और कैफे जैसे पब्लिक प्लेस पर इमर्जेंसी हालात में लोग स्मार्टफोन, टैबलेट, स्मार्टवॉच जैसे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस चार्ज कर लेते हैं। हालांकि ऐसा करना आपके लिए खतरनाक हो सकता है। इस तरह से यूएसबी चार्जिंग स्कैम किया जा रहा है, जिसे लेकर चेतावनी जारी की गई है। भारत सरकार की भारतीय कंप्यूटर इमर्जेंसी रेस्पांस टीम (CERT-IN) ने साइबर अपराधी पब्लिक प्लेस में चार्जिंग पोर्ट का इस्तेमाल करके घोटाले के अंजाम दे रहे हैं। इसे ‘जूस-जैकिंग अटैक नाम दिया गया है।

क्या है जूस-जैकिंग अटैक?

जूस जैकिंग अटैक यूएसबी केबल के पिन से हैकिंग को अंजाम दिया जाता है। इसमें यूएसबी पोर्ट में मैलवेयर को इंस्टॉल कर दिया जाता है। CERT-In ने चेतावनी दी है कि हैकर्स मैलवेयर ऐप्स इंस्टॉल करने के लिए USB केबल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इस तरह के हमले साइबर हमले को डिवाइस के डेटा को एन्क्रिप्ट करने हैकिंग को अंजाम दिया जाता है। इसके बाद फिरौती की मांग की जाती है।

कैसे रहें सुरक्षित?
यूएसबी चार्जिंग पॉइंट या “पोर्टेबल वॉल चार्जर” से अपने फोन को चार्ज करने से पहले अच्छी तरह से जांच करनी चाहिए।
अपने स्मार्टफोन या अन्य इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस को चार्ज करने के लिए इलेक्ट्रिकल वॉल चार्जिंग सॉकेट का उपयोग करना बेहतर है।पब्लिक प्लेस पर डिवाइस को चार्ज करने के लिए अपने केबल और एडाप्टर या पावर बैंक का इस्तेमाल किया जाता है।पब्लिक पर यूएसबी केबल कनेक्ट करने से पहले हमेशा स्मार्टफोन लॉक रखें और यूएसबी डिबगिंग और पेयरिंग ऑप्शन इनबेल करें। फोन चार्ज करने से पहले अपने स्मार्टफोन को बंद कर दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button