Join us?

व्यापार

जीएसटी संग्रह पिछले साल जून के मुकाबले आठ फीसदी की बढ़ोतरी

जीएसटी संग्रह पिछले साल जून के मुकाबले आठ फीसदी की बढ़ोतरी

वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) संग्रह जून, 2024 में सालाना आधार पर 7.7 फीसदी बढ़कर करीब 1.74 लाख करोड़ रुपये पहुंच गया। जीएसटी संग्रह में वृद्धि की यह रफ्तार जुलाई, 2021 के बाद करीब तीन साल में सबसे कम है। अप्रैल, 2024 और मई में कर संग्रह के रूप में केंद्र सरकार की कमाई क्रमशः 12.4 फीसदी और 10 फीसदी बढ़ी थी।

ये खबर भी पढ़ें : उच्च-तीव्रता वाली शारीरिक गतिविधि की वजह से बढ़ा बीमारियों का खतरा

सूत्रों के मुताबिक, चालू वित्त वर्ष में अब तक (अप्रैल-जून) कुल 5.57 लाख करोड़ रुपये का जीएसटी संग्रह हुआ है। इस तरह, पिछले तीन महीने में औसत कर संग्रह 1.86 लाख करोड़ रुपये पहुंच गया। वित्त वर्ष 2023-24 में यह औसत 1.68 लाख करोड़ रुपये रहा था।

ये खबर भी पढ़ें : Backward class candidate Patkar got first rank in MPPSC

जीएसटी के जरिये सरकार को अप्रैल, 2024 में अब तक की सबसे ज्यादा 2.10 लाख करोड़ रुपये की कमाई हुई थी। जून, 2023 में कर संग्रह 161,497 करोड़ रुपये और इस साल मई में 1,72,739 करोड़ रुपये रहा था।

ये खबर भी पढ़ें : खजूर खाएंगे तो स्वास्थ्य को मिलेंगे कई लाभ

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, जून के करीब 1.74 लाख करोड़ रुपये के कुल जीएसटी संग्रह में एकीकृत जीएसटी (आईजीएसटी) की हिस्सेदारी 39,586 करोड़ रुपये रही। राज्य जीएसटी (एसजीएसटी) का योगदान 33,548 करोड़ रुपये रहा। 2023-24 के दौरान जीडीपी में जीएसटी का योगदान बढ़कर तीन फीसदी पहुंच गया, जो 2019-20 में 2.6 फीसदी रहा था।

ये खबर भी पढ़ें : गर्मी के मौसम में रोज करें यह 5 योगासन, शरीर को मिलेगी एनर्जी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
दिनभर कानों में लगा रहता है ईयरफोन? हो सकती हैं 5 दिक्कतें मानसिक क्षमताओं को बढ़ावा देने वाले काम आइये जानते हैं विटामिन-C के फायदों के बारे में