Join us?

देश

Mp News : मतदाताओं को जागरूक करने व्यक्तिगत संपर्क पर दें विशेष जोर

मतदाताओं को जागरूक करने व्यक्तिगत संपर्क पर दें विशेष जोर

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन ने लोकसभा निर्वाचन-2024 की तैयारियों के संबंध में गुरुवार को इंदौर में इंदौर एवं उज्जैन संभाग के जिलों की समीक्षा की।

राजन ने कहा कि मतदाता जागरूकता के लिए स्थानीय स्तर पर कार्ययोजना बनाकर उसे क्रियान्वित करने के लिए घर-घर जाकर मतदाताओं से संपर्क किया जाये। गॉव वार दल बनायें। सरल, सुगम, निष्पक्ष तथा शांतिपूर्ण रूप से निर्विघ्न मतदान कराने के लिए चाक-चौबंद व्यवस्थाएं करें। गर्मी को देखते हुये मतदान केन्द्रों पर छाया, शीतल जल, बैठने की व्यवस्था, पंखे, ओआरएस सहित अन्य सभी जरूरी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। मतदान दिवस पर सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गए हैं।

स्वतंत्र, निष्पक्ष चुनाव कराने करें पूरी तैयारी

राजन ने कहा कि स्वतंत्र, निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए पुख्ता प्रबंध करें। कानून व्यवस्था, मतदान केन्द्रों की स्थिति, महिला तथा दिव्यांगों द्वारा प्रबंधित मतदान केन्द्रों, इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन तथा मानव संसाधन की उपलब्धता, पोस्टल बैलेट, वाहनों की उपलब्धता, नाकों पर की जा रही चेकिंग आदि की विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने कहा कि निर्वाचन के दौरान पूर्ण सावधानी और सतर्कता बरती जाये। स्वतंत्र, निष्पक्ष, निर्विघ्न एवं शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव सम्पन्न कराने को लेकर आयोग सतर्क और गंभीर है। उन्होंने निर्देश दिये कि आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों के खिलाफ एनएसए व जिलाबदर सहित अन्य प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की जाए, जिससे आम मतदाताओं में विश्वास कायम हो और वे निर्भीक होकर अपने मताधिकार का उपयोग कर सकें।

अंतर्राज्यीय एवं अंतर जिला नाकों पर 24 घंटे रखें निगरानी

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन ने कहा कि अंतर्राज्यीय एवं अंतर जिला नाकों पर 24 घंटे विशेष निगरानी रखें। अवैध धन, मदिरा, मादक पदार्थ और अवैध हथियारों सहित अन्य आपत्तिजनक सामग्री जब्त करें। साथ ही इस प्रकार की अवैध गतिविधियों में लिप्त असामाजिक तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाये। उन्होंने बाण्ड ओवर की कार्रवाई में तेजी लाने और जिलाबदर आदेश का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश भी दिये। साथ ही उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाये कि एसएसटी, एफएसटी एवं वीएसटी पूरी तरह मुस्तैद रहे। श्री राजन ने बल्नरेबल क्षेत्र के मतदान केन्द्रो में सुरक्षा के अतिरिक्त इंतजाम करने के निर्देश दिए। जिन भवनों में पाँच या उससे अधिक मतदान केन्द्र हैं, वहाँ अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात करने के निर्देश भी दिये। जिन मतदान केन्द्रों में मतदाताओं की संख्या अधिक है वहाँ अतिरिक्त मतदान कर्मियों की तैनाती करें, जिससे मतदान सुचारू रूप से चलता रहे।

मतदान की निगरानी के लिए रहेगी वेबकॉस्टिंग की व्यवस्था

श्री राजन ने कहा कि मतदान में बाधा डालने वाले तत्वों पर निगरानी रखने के लिये क्रिटिकल (संवेदनशील व अतिसंवेदनशील) मतदान केन्द्रों के भीतर और बाहर सीसीटीव्ही कैमरे लगाए जाएँ। इन कैमरों से होने वाली वेब कास्टिंग की निगरानी की पुख्ता व्यवस्था करें, जिससे यदि किसी केन्द्र पर मतदान में अनियमितता दिखाई दे तो तत्काल कार्रवाई की जा सके।

मतदाताओं को जागरूक करने “चलें बूथ की ओर” अभियान चलाएं

मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए हर मतदान केन्द्र तक व्यापक स्तर पर मतदाता जागरूकता गतिविधियाँ चलाने पर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री अनुपम राजन ने विशेष जोर दिया। उन्होंने कहा कि इसके लिए “चलें बूथ की ओर” अभियान चलाएँ। प्रत्येक मतदान केन्द्र से जुड़ी बस्तियों के हर घर तक यह संदेश पहुँचे कि 13 मई को सभी अपने मताधिकार का उपयोग अवश्य करें। मतदाताओं को वोट डालने के लिये घर-घर जाकर प्रेरित करने के लिये सभी जिला निर्वाचन अधिकारी प्रत्येक मतदान केन्द्र के लिये स्थानीय दल गठित करें। मतदान दिवस पर पर भी इस दल का सहयोग लेकर लोगों को मतदान के लिये बुलाएँ।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री अनुपम राजन ने कहा सभी जिलों में ग्रामीण क्षेत्र के साथ-साथ खासकर शहरी क्षेत्रों में ज्यादा से ज्यादा आदर्श मतदान केन्द्र स्थापित किए जाएँ। इन केन्द्रों की सुविधाएँ ऐसी हों, जिससे अधिक से अधिक मतदाता वोट डालने के लिये प्रेरित हों। मतदाताओं का स्वागत आम का पना, जलजीरा, छाछ इत्यादि प्रकार के वैलकम ड्रिंक्स से किया जा सकता है।

श्री राजन ने कहा कि मतदान प्रतिशत बढ़ाने में मतदाता सूचना पर्चियों का वितरण अत्यंत महत्वपूर्ण है। मतदाता पर्चियों के वितरण पर विशेष ध्यान दिया जाये। कोई भी मतदाता पर्ची मिलने से वंचित नहीं रहें। यह सुनिश्चित किया जाये कि शत-प्रतिशत मतदाताओं तक पर्चियाँ पहुँच जाएँ। उन्होंने कहा कि मतदाताओं को यह समझाया जाये कि मतदाता पर्ची ही मतदान के लिए पर्याप्त नहीं है। मतदाता पर्ची के साथ में उन्हें भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित वैकल्पिक पहचान दस्तावेज भी लाना होंगे।

इंदौर एवं उज्जैन संभाग के संभागायुक्त, कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षकों ने अपने-अपने जिले की चुनाव तैयारियों एवं स्वीप गतिविधियों तथा अन्य नवाचारों की जानकारी दी।

बैठक में श्री अनुपम राजन ने झाबुआ जिले में मतदाता जागरूकता के लिए तैयार किये गये कैलेण्डर का विमोचन भी किया। कैलेण्डर में मतदाता जागरूकता अभियान के तहत किये जा रहे कार्यों के फोटोग्राफ तथा मतदाता जागरूकता के संदेशों का सुन्दर चित्रण किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button