Join us?

plz join with us
एजुकेशन
Trending

Rajdhani news : आईटीएम यूनिवर्सिटी के टैली सर्टिफिकेशन कोर्स  के दूसरे बैच का शुभारंभ

Rajdhani news : आईटीएम यूनिवर्सिटी के टैली सर्टिफिकेशन कोर्स  के दूसरे बैच का शुभारंभ

रायपुर.आईटीएम विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ कॉमर्स, मैनेजमेंट एंड रिसर्च (एससीएमआर) ने मॉडर्न  जॉब मार्केट की जरूरतों के मुताबिक स्नातक छात्रों को व्यावहारिक व कौशलपूर्ण  बनाने के मकसद से  नया रायपुर स्थित अपने कैंपस में टैली सर्टिफिकेशन कोर्स के दूसरे बैच का शुभारंभ किया। टैली एजुकेशन प्राइवेट लिमिटेड बैंगलोर के सहयोग से छात्रों की रोजगार क्षमता बढ़ाने आठ सप्ताह की अवधि वाले इस  पाठ्यक्रम  के उद्घाटन समारोह में आईआईटी मुंबई के पूर्व रजिस्ट्रार एवं प्रख्यात शिक्षाविद डॉ. वी. के. श्रीधर बतौर मुख्य अतिथि मौजूद थे। रोजगारोन्मुखी पाठ्यक्रमों के महत्व पर जोर देते हुए डॉ. श्रीधर ने कहाकि  उन्नत टैली प्रमाणन न केवल छात्रों की नौकरी की संभावनाओं को बढ़ाता हैं बल्कि अपने  स्वयं का व्यवसाय शुरू करने के इच्छुक लोगों को भी सशक्त बना सकता है।आईटीएम विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर डॉ. सुमेर सिंह ने समान रूप से सैद्धांतिक ज्ञान और व्यावहारिक कौशल प्रदान करने के लिए आईटीएम विश्वविद्यालय की प्रतिबद्धता दोहराई और  कहा कि इंडस्ट्री डिमांड को पूरा करते हुए ही पाठ्यक्रम संचालित किया जा रहा है। महानिदेशक सुश्री लक्ष्मी मूर्ति ने छात्रों से कहा कि  वे अपने नियमित डिग्री पाठ्यक्रमों के साथ ही कौशल-आधारित प्रमाणन कार्यक्रम में भी उत्साहपूर्वक भाग लेते रहें। इस दिशा में उन्होंने विवि प्रबंधन द्वारा इंटर्नशिप और अंशकालीन रोजगार प्रदान किए जाने के विभिन्न कार्य योजना एवं प्रयासों की जानकारी भी दी।   एससीएमआर के प्रोफेसर एवं हेड डॉ. यासीन शेख ने विशेष रूप से नवीनतम टैली प्राइम रिलीज़ 4.0 सॉफ़्टवेयर के  व्यावहारिक अनुप्रयोग पर जोर दिया।इस संपूर्ण कोर्स के प्रशिक्षण सत्रों का संचालन  एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. मुकेश भोजवानी द्वारा किया जा रहा है।  उद्घाटन सत्र के इस कार्यक्रम में प्रोफेसर अरिजीत गोस्वामी, डॉ. खुशबू  साहू और डॉ. भावना प्रजापति सहित एससीएमआर के अन्य संकाय सदस्य उपस्थित थे।  एससीएमआर के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. मुकेश भोजवानी ने व्यावसायिक  क्षेत्र में सफलता के लिए छात्रों को सशक्त बनाने उत्साह और प्रतिबद्धता के साथ इस  समारोह का संचालन किया। इस पाठ्यक्रम के माध्यम से छात्र आवश्यक लेखांकन कौशल हासिल कर सकेंगे । उन्हें विभिन्न नौकरी भूमिकाओं जैसे सहायक लेखाकार, जीएसटी सलाहकार बनने में मदद मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button