Join us?

plz join with us
व्यापार

Business News : स्मॉल-मिडकैप शेयरों का 15 माह में सबसे खराब प्रदर्शन

Business News : स्मॉल-मिडकैप शेयरों का 15 माह में सबसे खराब प्रदर्शन

पूंजी बाजार नियामक सेबी की ओर से स्मॉल और मिड कैप शेयरों के बारे में जताई गई चिंता से इस हफ्ते में इन दोनों इंडेक्स में निवेशकों के 5.81 लाख करोड़ रुपये डूब गए हैं। इसके अलावा, सेबी ने म्यूचुअल फंड को इन शेयरों में एकमुश्त निवेश को सीमित करने का भी सुझाव दिया है। इससे इनमें जबरदस्त बिकवाली देखी गई। सेबी की चेयरपर्सन माधबी पुरी बुच के बयान के बाद पिछले 15 माह में इन शेयरों का इस हफ्ते सबसे खराब प्रदर्शन रहा है। म्यूचुअल फंडों ने अब तनाव परीक्षणों के नतीजों का खुलासा करना शुरू कर दिया है। इससे निवेशकों ने इन फंडों से पैसा निकालना शुरू दिया है।

दोगुना बढ़ गया मूल्य

निफ्टी स्मॉलकैप-100 इंडेक्स का मूल्य एक साल में करीब दोगुना बढ़ा है। मिडकैप-60 फीसदी तेजी के साथ रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है।
हवाला ऑपरेटरों के पास भी 30 कंपनियों से ज्यादा के शेयर
दुबई स्थित कथित हवाला ऑपरेटर व संबंधित संस्थाओं के पास 30 से अधिक कंपनियों के शेयर हैं। आरोपियों के पोर्टफोलियो वाले शेयरों ने कई गुना रिटर्न दिया है। जेनसोल इंजीनियरिंग ने दो वर्षों में 8 गुना रिटर्न दिया है।
महादेव एप में शामिल कंपनियों का हिस्सा
कई स्मॉलकैप और छोटे शेयरों में महादेव ऑनलाइन एप में शामिल कंपनियों की भी हिस्सेदारी है। इनका करोड़ों का निवेश है। महादेव ऑनलाइन बुक घोटाले के कारण स्मॉलकैप निवेशकों को नुकसान हुआ है। घोटाले से जुड़े कई शेयरों में भारी गिरावट आई है।

विदेशी मुद्रा भंडार दो साल के उच्च स्तर पर
देश का विदेशी मुद्रा भंडार 8 मार्च को समाप्त सप्ताह में 10.47 अरब डॉलर बढ़कर दो साल के उच्च स्तर 636.1 अरब डॉलर पर पहुंच गया। हाल के समय में यह पहली बार है, जब विदेशी मुद्रा भंडार 10 अरब डॉलर से ज्यादा बढ़ा है। इससे पहले 14 जुलाई, 2023 को यह 12.74 अरब डॉलर से ज्यादा बढ़ा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button