Join us?

राजधानी

नगर निगम ने एआई लैब स्थापित करने के लिए कॉर्पोरेट पार्टनर के चयन के लिए ईओआई जारी की

नगर निगम ने एआई लैब स्थापित करने के लिए कॉर्पोरेट पार्टनर के चयन के लिए ईओआई जारी की

रायपुर। रायपुर नगर निगम ने रायपुर में अत्याधुनिक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) लैब की स्थापना और संचालन के लिए एक कॉर्पोरेट पार्टनर के चयन हेतु एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (ईओआई) जारी की है। इस पहल का उद्देश्य तकनीकी नवाचार को बढ़ावा देना, शैक्षिक अवसरों को सुदृढ़ करना और क्षेत्र में आर्थिक विकास को गति देना है।

तकनीकी उन्नति की दिशा में एक कदम

एआई लैब एक अग्रणी सुविधा होगी, जिसे उन्नत अनुसंधान, विकास और एआई तकनीकों के अनुप्रयोग को बढ़ावा देने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह स्थानीय प्रतिभाओं, शोधकर्ताओं और व्यवसायों के लिए सहयोग का एक मंच प्रदान करेगा। एआई लैब की स्थापना से रायपुर की डिजिटल अर्थव्यवस्था में अग्रणी बनने की प्रतिबद्धता को बल मिलेगा और इसके नागरिकों को भविष्य के लिए बेहतर तरीके से तैयार किया जाएगा।

रायपुर के लिए आर्थिक और सामाजिक लाभ
1. कौशल विकास और रोजगार के अवसर*: एआई लैब प्रशिक्षण कार्यक्रमों, कार्यशालाओं और इंटर्नशिप की पेशकश करेगी, जिससे स्थानीय कार्यबल को उन्नत कौशल से सुसज्जित किया जा सकेगा और नए रोजगार के अवसर सृजित होंगे।
2. स्थानीय व्यवसायों को बढ़ावा*: एआई लैब के माध्यम से स्थानीय स्टार्टअप और स्थापित व्यवसायों को नवीन और वैश्विक प्रतिस्पर्धा के लिए सक्षम बनाया जाएगा।
3. सार्वजनिक सेवाओं में सुधार: इस सहयोग के परिणामस्वरूप नगर निगम के लिए कस्टम एआई एप्लिकेशन और सेवाओं का विकास होगा, जिससे सार्वजनिक सेवाओं की दक्षता और प्रभावशीलता में सुधार होगा।
4. अनुसंधान और नवाचार: एआई लैब अनुसंधान और विकास की संस्कृति को बढ़ावा देगी, जिससे रायपुर को तकनीकी उत्कृष्टता का केंद्र बनाने में मदद मिलेगी।

ईओआई क्यों जारी की गई?
ईओआई जारी करने का निर्णय नगर निगम की पारदर्शिता, समावेशिता और सर्वोत्तम विशेषज्ञता का लाभ उठाने की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। खुले और प्रतिस्पर्धी प्रक्रिया के माध्यम से कॉर्पोरेट पार्टनर का चयन करने से रायपुर को निम्नलिखित लाभ होंगे:
1. उच्चतम मानकों को सुनिश्चित करना: एआई में सिद्ध विशेषज्ञता और अनुभव वाले पार्टनर के चयन से लैब नवीनतम तकनीक से सुसज्जित होगी और उद्योग के नेताओं द्वारा संचालित होगी।
2. सहयोगात्मक विकास को बढ़ावा देना: खुली ईओआई प्रक्रिया विविध प्रस्तावों को प्रोत्साहित करती है, जिससे रायपुर की विशिष्ट आवश्यकताओं के अनुरूप नवीन दृष्टिकोण और समाधान प्राप्त होते हैं।
3. समुदाय के लिए अधिकतम लाभ*: कॉर्पोरेट पार्टनर के साथ सहयोग करके, नगर निगम यह सुनिश्चित करता है कि लैब केवल तकनीकी और आर्थिक लक्ष्यों को ही नहीं, बल्कि सामाजिक प्रभाव और सामुदायिक सहभागिता को भी प्राथमिकता दे।

ईओआई का विवरण
कॉर्पोरेट पार्टनर एआई विशेषज्ञों, अत्याधुनिक मशीनरी और नगर निगम के लिए कस्टम एआई एप्लिकेशन और सेवाओं को मुफ्त में प्रदान करने के लिए जिम्मेदार होगा। बदले में, पार्टनर को बाजार कार्यों के माध्यम से राजस्व उत्पन्न करने का अवसर मिलेगा। नगर निगम लैब के लिए आवश्यक बुनियादी ढांचा और सुविधाएं प्रदान करेगा, जिसमें आईएसबीटी या सुभाष स्टेडियम में 3000 वर्ग फीट का स्थान शामिल है। पार्टनर सभी संचालन लागतों, सुरक्षा उपायों और स्वच्छता के लिए जिम्मेदार होगा। इच्छुक पक्ष अपने अनुभव, क्षमताओं और एआई लैब के लिए दृष्टिकोण को प्रदर्शित करते हुए अपने प्रस्ताव जमा करने के लिए आमंत्रित हैं। चयन मानदंडों में कार्य अनुभव, कर्मचारी योग्यता, वित्तीय स्वास्थ्य और न्यूनतम 100 करोड़ रुपये का कारोबार शामिल है।
एआई लैब की स्थापना रायपुर के तकनीकी रूप से उन्नत और आर्थिक रूप से सशक्त शहर बनने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। नगर निगम इस दूरदर्शी परियोजना को आगे बढ़ाने के लिए अग्रणी कॉर्पोरेट संस्थाओं के साथ साझेदारी करने के लिए तत्पर है, जिससे रायपुर के नागरिकों को स्थायी लाभ प्राप्त हो सके। अधिक जानकारी और प्रस्ताव जमा करने के लिए कृपया रायपुर नगर निगम की आधिकारिक वेबसाइट की लिंक https://nagarnigamraipur.nic.in पर जाएं। रायपुर नगर निगम सतत विकास को बढ़ावा देने, सार्वजनिक सेवाओं को सुदृढ़ करने और अपने निवासियों के जीवन स्तर को बेहतर बनाने के लिए समर्पित है। नवाचार परियोजनाओं और सामुदायिक-केंद्रित पहलों के माध्यम से, निगम एक समृद्ध, समावेशी और दूरदर्शी शहरी वातावरण को बढ़ावा देने का लक्ष्य रखता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
होंठों के ऊपर कालेपन से है परेशान? करें ये इस्तेमाल मुंबई में घूमने के लिए प्रमुख स्थान मानसून का मज़ा लीजिए, लेकिन इन स्ट्रीट फूड्स से रहें दूर