Join us?

देश

प्रदेश में “एक पेड़ मां के नाम” अभियान में लगेंगे साढ़े पांच करोड़ पौधे : मुख्यमंत्री डॉ. यादव

प्रदेश में "एक पेड़ मां के नाम" अभियान में लगेंगे साढ़े पांच करोड़ पौधे : मुख्यमंत्री डॉ. यादव

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा है कि मध्यप्रदेश में “एक पेड़ मां के नाम” अभियान जन सहयोग से सफल होगा। अभियान के लिए अधिकतम जन सहभागिता के प्रयास किये जा रहे है। प्रदेश के दो बड़े नगरों में अनेक संगठन अभियान से जुड़ रहे हैं। इंदौर जिले में जहां 51 लाख पौधे लगाने का संकल्प लिया गया है, वहीं राजधानी भोपाल सहित जिले के विभिन्न स्थानों पर एक दिन में ही 12 लाख पौधे रोपे जाएंगे। भोपाल जिले में 12 हजार पौधे “माँ” के सम्मान में लगाए जाएंगे। शेष पौधे भी विभिन्न सार्वजनिक स्थानों पर लगेंगे। भोपाल में राष्ट्रवादी विचारक, शिक्षाविद और भारतीय जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती 6 जुलाई को अभियान के अंतर्गत पौधे लगाने का कार्य शुरू किया जाएगा।

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने मंत्रालय में गुरूवार को एक विशेष बैठक में जनप्रतिनिधियों और वरिष्ठ अधिकारियों से अभियान की तैयारियों की जानकारी प्राप्त की।

विद्यार्थियों को दें विरासत की जानकारी

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि पौध-रोपण के अभियान के साथ युवाओं को जोड़ कर उन्हें पर्यावरण का महत्व बताना प्रशंसनीय है। इसके साथ ही विद्यार्थियों को विरासत से जोड़ने का कार्य भी किया जाए। भोपाल जिला पर्यटन परिषद और अन्य संस्थाएं विद्यार्थियों को पुरातात्विक महत्व के स्थानों, विज्ञान संग्रहालय और अन्य संग्रहालयों की सैर करवाएं। भोपाल में ऐसे जीवंत प्रयास होने चाहिए जिससे राजधानी एक मॉडल बने और अन्य स्थानों पर उसकी चर्चा हो। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने जिले के विकास के लिए रोड मैप तैयार करने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि “एक पेड़ माँ के नाम” अभियान के लिए जन अभियान परिषद, अखिल विश्व गायत्री परिवार और अन्य संस्थाओं का पूरा सहयोग लिया जाए। बैठक में मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने एक स्थान पर विशाल जन भागीदारी वाला कार्यक्रम भी आयोजित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पौध-रोपण के लिए तकनीकी रूप से आवश्यक सभी तैयारियां पूरी की जाएं।

भोपाल में पौध-रोपण की कार्य योजना

भोपाल में करीब 350 स्थल पौध-रोपण के लिए चयनित किए गए हैं। इनमें मुख्य रूप से कलियासोत डेम, आदमपुर खंती, कीरत नगर, केम्पा वृक्षारोपण मुगालिया कोट, समरधा जंगल रेंज तथा कलारा बैरसिया भी शामिल हैं। कुल 480 हेक्टेयर क्षेत्र में पौधे लगाने का लक्ष्य है। “एक पेड़ मां के नाम” एवं “हरित महोत्सव” अभियान को भोपाल में “एक वृक्ष भोपाल के नाम” से भी प्रचारित किया जा रहा है। इसके अंतर्गत व्यापक पौध-रोपण होगा। राजधानी हरे भरे पौधों से सजेगी। भोपाल में 6 जुलाई को व्यापक पौध-रोपण के अंर्तगत एक दिन में 12 लाख पौधे लगेंगे। जन-जन को पौध-रोपण से जोड़ा जाएगा। भोपाल नगर के साथ ही संपूर्ण भोपाल जिले में भी पौधे लगाए जाएंगे। “एक पेड़ मां के नाम” अभियान का पूरे प्रदेश में क्रियान्वयन हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
दिनभर कानों में लगा रहता है ईयरफोन? हो सकती हैं 5 दिक्कतें मानसिक क्षमताओं को बढ़ावा देने वाले काम आइये जानते हैं विटामिन-C के फायदों के बारे में