Join us?

शिक्षा

श्री रावतपुरा सरकार विश्विद्यालय हुआ गौरवान्वित, एस.आर. यू के प्राध्यापक डॉ. सुरेंद्र कुमार गौतम को मिला “यंग प्लांट पैथोलॉजिस्ट अवार्ड

श्री रावतपुरा सरकार विश्विद्यालय हुआ गौरवान्वित, एस.आर. यू के प्राध्यापक डॉ. सुरेंद्र कुमार गौतम को मिला "यंग प्लांट पैथोलॉजिस्ट अवार्ड

श्री रावतपुरा सरकार विश्विद्यालय के लाइफ साइंस विभाग के सह-प्राध्यापक डॉ. सुरेंद्र कुमार गौतम द्वारा पौधा रोग विज्ञानं के डाई गए महत्वपूर्ण कर टमाटर एवं करेले में लगने वाले शुक्ष्म विषाणु निमेरोड की पहचान कर उसे भारत सरकार वाणिज्य एवं उद्योग विभाग में पेटेंट कराया गया है।

ये खबर भी पढ़ें : भारतीय रेलवे ने इन लोगों के लिए लॉन्च किया संज्ञान ऐप

डॉ. गौतम के विशिष्ट शोध के लिए भारत की शीर्ष संस्था सोसाइटी फॉर एडवांस रिसर्च इन प्लांट साइंस (SARPS) ‘ग्लोबल एकेडेमिक्स एक्सीलेंस अवार्ड्स 2024’ द्वारा “यंग प्लांट पैथोलॉजिस्ट अवार्ड” से सम्मानित किया गया। डॉ. गौतम को यह अवार्ड दुबई, यूएई में प्रदान किया गया।

ये खबर भी पढ़ें : संतरे खाने से स्वास्थ्य को होने वाले लाभकारी गुण

डॉ. गौतम ने पौध रोग विज्ञान में महत्वपूर्ण शोध कार्य किए हैं, जिसमें करेला व टमाटर को प्रभावित करने वाले निमेटोड की पहचान और पृथक्करण पर विशेष रूप से उल्लेखनीय कार्य शामिल है। उनके अनुसंधान ने न केवल वैज्ञानिक समुदाय को लाभान्वित किया है बल्कि किसानों को भी उनकी फसल की उत्पादकता और गुणवत्ता में सुधार करने में मदद की है।

ये खबर भी पढ़ें : Backward class candidate Patkar got first rank in MPPSC

शिक्षण के क्षेत्र में, डॉ. गौतम ने कई छात्रों को प्रशिक्षित किया है और उन्हें उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित किया है। उनकी शिक्षण शैली और शोध में उत्कृष्टता के कारण वे छात्रों और सहकर्मियों के बीच बहुत लोकप्रिय हैं।

ये खबर भी पढ़ें : श्री रावतपुरा सरकार यूनिवर्सिटी रायपुर ने रचा इतिहास…

इस अंतरराष्ट्रीय मंच पर पुरस्कार प्राप्त करने पर डॉ. गौतम ने कहा, “यह पुरस्कार मेरे लिए अत्यंत गर्व की बात है। यह मेरे शिक्षण और शोध कार्य की मान्यता है, और मैं इसे अपने सभी सहयोगियों और छात्रों को समर्पित करता हूँ जिन्होंने मुझे इस यात्रा में समर्थन दिया है।”

ये खबर भी पढ़ें : ऑपरेशन निजात : रायपुर पुलिस ने 3 किलो अफीम के साथ आरोपी गिरफ्तार

उक्त उपलब्धि से विश्विद्यालय को अंतराष्ट्रीय स्तर में पहचान मिली है।यह पुरस्कार उनके जैसे युवा वैज्ञानिकों के लिए प्रेरणा का स्रोत बनेगा, जो प्लांट पैथोलॉजी के क्षेत्र में नई ऊंचाइयों को छूने का प्रयास कर रहे हैं।

ये खबर भी पढ़ें : नए कानून लागू होते ही भोपाल के हनुमानगंज थाने में दर्ज हुई प्रदेश की पहली एफआईआर

युनिवेर्सिटी के प्रति कुलाधिपति श्री हर्ष गौतम, कुलपति प्रो. एस के सिंह,कुलसचिव सौरभ शर्मा और डीन रिसर्च डॉ. आर. पी रजवाड़े ने सह-प्राध्यापक डॉ. सुरेंद्र कुमार गौतम को उनके क्षेत्र में उपलब्धि प्राप्त करने और विश्वपटल में युनिवेर्सिटी को गौरवान्वित करने की बधाई दी।

ये खबर भी पढ़ें : जीएसटी संग्रह पिछले साल जून के मुकाबले आठ फीसदी की बढ़ोतरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
होंठों के ऊपर कालेपन से है परेशान? करें ये इस्तेमाल मुंबई में घूमने के लिए प्रमुख स्थान मानसून का मज़ा लीजिए, लेकिन इन स्ट्रीट फूड्स से रहें दूर